एवरेस्‍ट फतह करने वाली पहली महिला जुनको ताबेई का निधन

junko-tabei

टोक्यो. दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतह करने वाली दुनिया की पहली महिला, जुनको ताबेई का निधन हो गया है.

जापानी मीडिया की खबर के मुताबिक उनकी मौत कैंसर की वजह से हुई है. वह 77 वर्ष की थीं.

जुनको जापान से थीं. उन्होंने अपने जीवनकाल में उन्‍होंने 70 से अधिक देशों के सबसे ऊंचे पर्वतों की चोटियों को फतह कर इतिहास रचा था.

जुनको ने 16 मई 1975 को एवरेस्‍ट पर चढ़कर इतिहास रच दिया था. उस समय वह ऐसा करने वाली दुनिया की पहली महिला बन गई थीं.

ताबेई का जन्‍म 1939 में जापान के मिहारू में हुआ था. उनका सपना था कि वे दुनिया के सभी देशों के ऊंचे पहाड़ों पर चढ़ाई करें.

वह 1992 में सात महाद्वीपों की सबसे उंचे पर्वतों की चोटियों को फतह करने वाली पहली महिला बनीं. उन्होंने 1969 में एक लेडीज क्लाइंबिग क्लब की स्थापना की थी.

एवरेस्ट फतह करने के 16 वर्ष बाद 1991 में उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि वह और भी पर्वत फतह करना चाहती हैं.

उन्होंने यह साहस भरा काम एक ऐसे देश में रहते हुए किया था जहां महिलाओं की जगह घर में मानी जाती थी. उनका कहना था कि जीवन को पूरी तरह से जीना चाहिए.

उन्होंने कहा था कि उनकी पीढ़ी के अधिकतर जापानी पुरुष उम्मीद करते हैं कि महिलाएं घर में रहेंगी और घर की सफाई करेंगे.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY