सऊदी अरब में दुर्लभ घटना, शाही खानदान के सदस्य को सज़ा-ए-मौत

रियाद. सऊदी अरब में हत्या के जुर्म में शाही खानदान के एक सदस्य को मौत की सजा दी गई है. सऊदी अरब के गृह मंत्रालय के मुताबिक तीन साल पहले राजधानी रियाद में एक व्यक्ति की हत्या करने के मामले में एक सऊदी राजकुमार को मृत्युदंड दे दिया गया है.

प्रिंस तुर्की बिन सऊद अल कबीर को राजधानी रियाद में मौत की सज़ा दी गई. यह एक दुर्लभ घटना है जिसमें ‘हाउस ऑफ सऊद’ के हजारों सदस्यों में से किसी एक को मौत की सजा दी गई है.

उल्लेखनीय है कि सऊदी अरब में मौत की सज़ा पाने वाले अधिकत लोग क़त्ल या फिर ड्रग तस्करी के दोषी होते हैं. 1975 में शाह फ़ैसल की हत्या करने वाले शाही परिवार के सदस्य फ़ैसल बिन मुसैद अल सऊद को भी मौत की सज़ा दी गई थी.

अल-कबीर पर सऊदी नागरिक आदिल अल-मोहम्मद की गोली मारकर हत्या करने का आरोप था. मंत्रालय के बयानों के आधार पर कबीर 134वें स्थानीय या विदेशी थे, जिन्हें इस साल मौत की सजा दी गई.

गृह मंत्रालय के बयान के मुताबिक़ राजकुमार ने अपने साथी की हत्या करने का दोष स्वीकार किया था. हालांकि ये स्पष्ट नहीं है कि उन्हें मौत की सज़ा किस तरह दी गई. सऊदी अरब में अधिकतर लोगों को सर क़लम करके मौत की सज़ा दी जाती है.

अरब न्यूज ने नवंबर 2014 में खबर दी थी कि रियाद की एक अदालत ने अपने दोस्त की हत्या के जुर्म में एक अनाम शहजादे को मौत की सजा सुनाई.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY