कश्मीरी आतंकियों के अड्डे से चीन के झंडे बरामद, हिरासत में 44 लोग

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों के पास से अबतक पाकिस्तान से सम्बंधित चीज़ें ही मिली करती थीं, लेकिन ये पहली बार है जब उनका सम्बन्ध चीन से जुड़ता दिखाई दे रहा है.

जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकवादियों के ठिकानों से सुरक्षा बालों ने चीन के झंडे बरामद किए हैं. संदिग्‍ध आतंकी ठिकानों पर की गई छापामारी के बाद कई चीजों के अलावा ये झंडे बरामद हुए.

सुरक्षाबलों ने राज्‍य के बारामूला में संदिग्‍ध आतंकी ठिकानों पर रेड मारी और आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में 44 लोगों को हिरासत में लिया. कश्‍मीर में ऐसा शायद पहली बार है जब आतंकी ठिकानों से चीनी झंडे बरामद हुए हैं.

सोमवार की सुबह सेना के जवानों ने पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर जिला बारामुला के ओल्ड टाउन बारामुला, गनई हमाम, आजादगंज, जामिया कदीम व उससे सटे इलाकों की घेराबंदी कर सघन तलाशी अभियान चलाया था.

सेना के एक प्रवक्‍ता ने कहा, ’17 अक्‍टूबर को बारामूला में एक व्‍यापक सर्च अभियान के तहत 12 घंटे के भीतर 700 से ज्‍यादा घरों की तलाशी ली गई. इस दौरान आतंक संबंधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में 44 लोगों को हिरासत में लिया गया.’

प्रवक्‍ता ने कहा, ‘सर्च अभियान के दौरान कई चीजें बरामद हुईं जिनमें पेट्रोल बम, चीनी और पाकिस्‍तानी झंडे, आतंकी संगठनों लश्‍कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्‍मद के लेटर हेड पैड्स, कई मोबाइल फोन्‍स और राष्‍ट्र के खिलाफ दुष्‍प्रचार फैलाने वाली सामग्रियां बरामद की गईं.’

प्रवक्‍ता ने कहा कि सर्च अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने संदिग्‍ध आतंकियों के कई ठिकानों का भंडाफोड़ किया. उन्‍होंने कहा कि इस अभियान को आर्मी, पुलिस, बीएसएफ और सीआरपीएफ ने मिलकर अंजाम दिया. इस अभियान के तहत इन इलाकों में आतंकियों के 10 ठिकाने मिले.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY