ज़मीन से जुड़ा पंजाब का किसान उड़ रहा विदेशी आसमान में

इनसे मिलिए ये हैं दलजीत सिंह. बजरावर, होशियारपुर पंजाब से एक सामान्य खेतिहर के रूप में 1974 मे नार्वे आनेवाले दलजीत सिह ने अपनी मेहनत और ईमानदारी से कामयाबी का इतिहास रचा है.

वे फूलों वनस्पतियों की खेती करने वाले सबसे बड़े किसान बन गए हैं. वे सरकार को करीब तीस लाख क्रोनॉ ( तीन करोड़ रूपये) सालाना टैक्स देते हैं. उनकी खेती का सालाना कारोबार करीब 15 मिलियन क्रोनॉ (15 करोड़ रूपये) तक पहुंच चुका है.

वे द्रामन शहर से आगे जेइटहस में सौ एकड़ के अपने गार्डेनरी में 120 तरह के फूल, 75 तरह के गुलाब और अनगिनत वनस्पतियाँ उगाते हैं. अब वे रोमानिया में सौ एकड़ के खेत में भारतीय सब्जियां उगाने जा रहे हैं.

दलजीत सिंह कंजरवेटिव पार्टी की ओर से मुदुम काउंटी से चार बार चुनाव जीत चुके हैं. उनका जीवन एक खुली किताब है. मैंने उनके साथ यहाँ एक सप्ताह सुदूर नार्वें की यात्राएँ की. वे अपने क्षेत्र में दुनिया के किसी भी कृषि वैज्ञानिक से ज्यादा जानते हैं.

हमें आप पर गर्व है.

– अजित राय

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY