मोदी के बयान से बिलबिलाए पकिस्तान ने कहा, ब्रिक्स सदस्यों को कर रहे गुमराह

sartaj-aziz

इस्लामाबाद. ब्रिक्स सम्मलेन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आतंकवाद को ‘पाकिस्तान की प्यारी औलाद’ बताने वाले बयान से पाकिस्तान बिलबिला गया है. पाकिस्तान ने प्रधानमंत्री मोदी के आरोपों को खारिज कर दिया है.

[‘राज्य प्रायोजित आतंकवाद की निंदा करने का वक्त ख़त्म, अब कार्रवाई की ज़रुरत’]

पाक प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के सलाहकार और पूर्व एनएसए सरताज अजीज ने कहा कि ब्रिक्स और बिम्सटेक के सदस्यों को गुमराह किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान संगठित है.

अजीज ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में भारत सरकार द्वारा की जा रहीं ज्यादतियों को छिपाने की कोशिश की जा रही है. अजीज ने कहा कि पाकिस्तान ब्रिक्स और बिम्सटेक सदस्यों से आतंकवाद को खत्म करने के आह्वान का समर्थन करता है.

उन्होंने कहा कि हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं. अजीज ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र लगातार इस बात पर जोर देता रहा है कि कश्मीर में आजादी के लिए आंदोलन कर रहे लोगों को आतंकवादियों की श्रेणी में नहीं रखा जा सकता.

गौरतलब है कि रविवार को आतंकवाद के खिलाफ दुनिया को एकजुट करने में लगे पीएम मोदी ने ब्रिक्स सम्मेलन में भी कड़ा रुख अपनाया. पीएम मोदी ने ब्रिक्स के सदस्य देशों ब्राजील, रूस, चीन और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्राध्यक्षों के साथ हुई बैठक में आतंकवाद का मुद्दा जोरशोर से उठाया.

पीएम मोदी ने सभी सदस्य देशों से कहा कि आतंकवाद अब एक वैश्विक समस्या बन चुका है. ब्रिक्स सहित दुनिया के तमाम देश अब आतंक की समस्या से जूझ रहे हैं.

मोदी ने कहा, मध्य-पूर्व एशिया हो या यूरोप, पश्चिम एशिया हो या दक्षिण एशिया, दुनिया का कोई भी क्षेत्र आतंकवाद से अछूता नहीं है. ऐसे हालात में हम सभी के सामने अपने नागरिकों को आतंकवाद से बचाने की चुनौती है.

उन्होंने आगे कहा कि दुर्भाग्य की बात ये है कि आतंकवाद की जननी भारत के पड़ोस में है. पूरी दुनिया के आतंकी मॉड्यूल के तार इस देश से जुड़े हैं. यह देश न केवल आतंकियों को पनाह देता है, बल्कि ऐसी सोच को भी पालता पोसता है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY