दिल्ली तक पहुंचा लाल आतंक, नोएडा से 5 लाख के इनामी सहित 6 नक्सली गिरफ्तार

नोएडा. दिल्ली से सटे नोएडा से छः नक्सलियों की गिरफ्तारी ने साबित कर दिया है कि लाल आतंक देश की राजधानी की दहलीज़ तक पहुँच चुका है. शनिवार को यूपी पुलिस ने नोएडा के हिंडन विहार से 6 नक्सलियों को पकड़ा है.

इनमें से एक की कई नक्सली वारदातों के सिलसिले में तलाश थी. उसकी पहचान नक्सली कमांडर प्रदीप सिंह खरवार पुत्र उपेंद्र सिंह खरवार के रूप में हुई है.

शुरुआती जांच में पता चला है कि ओखला के रहने वाले डॉ कय्यूम की यह बिल्डिंग है. एटीएस की टीम ने इनकी एक वैगनार कार बरामद की है. मुंबई सहित अन्य कई प्रदेशों से इस फ्लैट में इनके साथी आ रहे थे.

यूपी पुलिस इस गिरफ्तारी के बारे में ज्यादा जानकारी देने से बच रही है. जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार किए गए संदिग्ध दिल्ली-एनसीआर में किसी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में थे.

प्रदीप झारखंड के लातेहार के बरियातु गांव का रहने वाला है. इन नक्सलियों के पास से 6 हथियार और विस्फोटक भी बरामद हुए हैं. यूपी एटीएस ने पहले एक नक्सली को गिरफ्तार किया था, बाद में उसकी निशानदेही पर बाकी की गिरफ्तारियां हुईं.

प्रदीप सिंह खरवार नोएडा में 2012 से ही छिप कर रह रहा था. उस पर पुलिस ने 5 लाख रुपये का इनाम रखा था. वह बिहार के मोस्ट वांटेड नक्सलियों में से एक था.

शनिवार रात को एनएसजी और यूपी एटीएस की टीम ने नोएडा सेक्टर 49 के हिंडन विहार में छापा मारा था. यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी ने भी इसकी पुष्टि की है.

दलजीत चौधरी ने ट्वीट कर बताया कि पुलिस ने 5 लोगों को पकड़ा है, उनके पास से 6 हथियार बरामद हुए हैं. इनमें से एक व्यक्ति नक्सली वारदातों में शामिल रहा है.

प्राथमिक जांच में एटीएस दावा कर रही है कि ये नक्सली दिल्ली एनसीआर में सिलसिलेवार घटनाओं को अंजाम देने की साजिश रच रहे थे. इसके बाद यह कैमूर भभुआ बिहार भागने की प्लानिंग थी.

बताया जा रहा है कि गिरफ्तार नक्सली प्रदीप सिंह बम बनाने में माहिर है. उस पर झारखंड सरकार से पांच लाख रुपये इनाम घोषित होने की सूचना मिल रही है.

चश्मदीदों के अनुसार एटीएस की टीम दो आरोपियों को पकड़ कर लाई थी. उनसे ही फ्लैट खुलवाया और अंदर से चार अन्य नक्सलियों को दबोच लिया. प्राथमिक जांच के बाद पता लाग है

चश्मदीदों के मुताबिक भी पुलिस ने 5 से 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. आसपास रहने वाले लोगों के मुताबिक ये पिछले 2-3 महीने से यहां रह रहे थे.

पश्चिमी यूपी एटीएस के एक बड़े अधिकारी ने बताया कि पिछले कुछ समय से नोएडा में नक्सलियों के छिपे होने की सूचना मिल रही थी. एटीएस टीम करीब एक माह से इन पर निगाहें लगाए हुए थी.

सर्विलांस से मिली पुष्ट जानकारी के आधार पर शनिवार देर शाम एटीएस के कमांडो की टीम सेक्टर 49 स्थित फ्लैट पर पहुंची और ऑपरेशन को अंजाम दिया.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY