यूपी के ओपिनियन पोल में भाजपा नंबर 1, चचा-भतीजे की लड़ाई बनवा देगी सरकार

नई दिल्ली. 2017 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा बहुमत के नजदीक पहुंचकर सरकार बनाने की स्थिति में आ सकती है. वहीं बहुजन समाज पार्टी के दूसरे नंबर पर रहने की संभावना है.

एक टीवी चैनल द्वारा कराए गए ओपीनियन पोल के मुताबिक यूपी में मुख्य मुकाबला भाजपा और बीएसपी के बीच होने जा रहा है, एसपी तीसरे नंबर पर रहेगी जबकि कांग्रेस के प्रदर्शन में कोई सुधार होता नजर नहीं आ रहा.

ओपीनियन पोल लगभग 32% वोट के साथ भाजपा को 180 सीट दे रहा है. बसपा दूसरे और सपा को तीसरे नंबर पर बताया जा रहा है. चैनल ने स्वीकार किया है कि 80% सर्वे सर्जिकल स्ट्राइक से पहले संपन्न हो चुका था और सिर्फ 20% उसके बाद हुआ.

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया के ओपीनियन पोल में 90% लोगों ने स्वीकार किया कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद मोदी और भाजपा ताकतवर बन के उभरे हैं और 67% लोगों ने स्वीकार किया कि सर्जिकल स्ट्राइक  के कारण भाजपा को चुनावी लाभ होगा.

31 % लोगों ने सीएम के तौर पर मायावती को पसंद किया और 18 % ने राजनाथ सिंह और 14 % ने योगी आदित्य नाथ को… यहां चैनल की चालबाज़ी देखिये कि उसने मायावती के मुकाबले भाजपा के तीन प्रत्याशी राजनाथ, योगी और केशव मौर्य को खड़ा कर वोट बांट दिए.

सबसे महत्वपूर्ण बात ये कि 58% मुसलमान आज भी सपा को वोट देने को तैयार है. पर मेरा पक्का मानना है कि सर्वे करने वालों ने सपा के भोटर से ये नहीं पूछा होगा कि वो सपा के कौन से गुट में है? सपा (अखिलेश) में या सपा (शिवपाल) में. या ये कि यदि टिकट सपा (शिवपाल) के प्रत्याशी को मिला तो वो वोट किसको देगा.

अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के झगडे के बाद यूपी की राजनीति सीधी सपाट नहीं रह गयी बल्कि इमरती जलेबी की माफिक उलझ गयी है.
मतदान की तारीख आते आते भाजपा का मत प्रतिशत 36 % के ऊपर जाएगा.

कितना ऊपर जाएगा, ये चचा भतीजा की लड़ाई और मुस्लिम भोट का ध्रुवीकरण तय करेगा. चचा भतीजे की लड़ाई भाजपा को 40 % के पास भी ले जा सकती है.

ओपीनियन पोल में भाजपा को सबसे ज्यादा 31% वोट्स के साथ 170-183 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है. वहीं 28% मतों के साथ दूसरे नंबर पर बीएसपी के रहने का अनुमान लगाया गया है.

सत्ताधारी समाजवादी पार्टी के लिए यह ओपीनियन पोल किसी झटके से कम नहीं क्योंकि पार्टी को तीसरे नंबर पर बताते हुए उसे 25% वोट्स मिलने की बात कही गई है. एसपी को सर्वे में 94-103 सीटें दी गई हैं.

सर्वे में कांग्रेस को 6% वोट्स के साथ 8-12 सीटें दी गई हैं. वहीं अन्य के खाते में 10% वोट्स के साथ 2 से 6 सीटें आने की बात कही गई है.

सर्वे के मुताबिक 31% लोग चाहते हैं कि मायावती अगली मुख्यमंत्री बनें, वहीं अखिलेश को 27%, मुलायम को 01%, राजनाथ को 18%, योगी आदित्यनाथ को 14%, प्रियंका गांधी को 2% जबकि कांग्रेस की अधिकृत सीएम प्रत्याशी शीला दीक्षित को सिर्फ 01% लोगों ने मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी पसंद बताया है.

इस ओपीनियन पोल से से साफ़ है कि चुनाव मैनेजमेंट के महारथी समझे जाने वाले प्रशांत किशोर की कोशिशों के बाद भी कांग्रेस के प्रदर्शन में कोई सुधार होता नजर नहीं आ रहा है. इसे राहुल गांधी की किसान यात्रा और खाट सभाओं की विफलता भी समझा जा रहा है.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY