‘जय श्री राम’, दशहरे पर प्रधानमंत्री ने किया उद्घोष

लखनऊ. दशहरे के अवसर पर लखनऊ के ऐतिहासिक ऐशबाग रामलीला में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन के अंत में ‘जय श्री राम’ का उद्घोष किया.

श्री राम जन्मभूमि आंदोलन के दिनों में भारतीय जनता पार्टी के हर छोटे-बड़े नेता द्वारा लगाए  जाने वाले इस नारे को अरसे बाद किसी भाजपा नेता द्वारा उच्चारित किया गया है.

प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि विजयादशमी के अवसर पर हमें अपने भीतर की 10 बुराइयों को खोजकर खत्म करने की आवश्यकता है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकवाद का समर्थन करने वाले लोगों के लिए माफी नहीं हो सकती. आतंकवाद को जड़ से मिटाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ पहली लड़ाई किसी नेता ने नहीं बल्कि जटायु ने लड़ी थी.

… विस्तृत समाचार शीघ्र ही

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY