… और पाकिस्तानियों के साथ हमबिस्तरी को तैयार हो गए मोदी विरोधी

डिस्कवरी चैनल में दिखाया जाता है कि मसाई मारा के जंगलों के शेर, शेरनियों के दूध पीते बच्चों को मार देते हैं. बच्चों के मारे जाने से उपजे विषाद और उबाल खाती मातृत्व की भावना के फलस्वरूप शेरनियों में ऐसे हार्मोनल परिवर्तन आते हैं कि वो तुरंत हीट में आ जाती है और फिर उसी शेर से मिलन को तैयार हो जाती हैं जिसने उनके बच्चों को मारा था.

बहुत पहले मैंने किसी पुस्तक में या शायद पत्रिका में एक लेख पढ़ा था. पति की मृत्यु का समाचार सुन विधवा औरत को पहला आघात तो पति की मृत्यु का होता है. मृत्योपरांत दाह संस्कार और उसके कुछ दिन बाद तक तो लोग उसे घेरे रहते हैं. उसके बाद 4-5 दिन बाद उसे दूसरा आघात तब लगता है जब वो अकेली होती है.

तब उसे ये अहसास होता है कि अब उसका पति कभी लौट के नहीं आयेगा. अब वो निपट अकेली है. फिर उसे याद आता है कि अब वो साहचर्य और संसर्ग सुख से भी वंचित हो गयी है… हमेशा के लिए…

उस लेख में लेखक ने हाल ही में विधवा हुई कुछ महिलाओं का इंटरव्यू लिया था. उसमें एक अधेड़ महिला ने बताया कि इस उम्र में उनके जीवन में सेक्स का कोई विशेष महत्व रह नहीं गया था और उन्हें अपने पति से संसर्ग किये महीनों बीत गए थे… पर जब अचानक उनकी मृत्यु हो गयी तो वो एकाएक अपने जीवन में सेक्स का बहुत ज़्यादा अभाव महसूस करने लगीं.

ये भावना उनके शरीर में शायद तब उपजी होगी जब उन्होंने ये महसूस किया कि अब उनके पति नहीं रहे और वो हमेशा के लिए उनके साहचर्य और संसर्ग सुख से वंचित हो गयी हैं. सिर्फ इस अहसास ने ही उनमे मन और शरीर में सेक्स के प्रति इतनी तीव्र इच्छा जागृत कर दी की उनका रोम रोम सेक्स के लिए तड़पने लगा.

इसीलिए कहा जाता है कि मनोविज्ञान बेहद जटिल विषय है.

अब जबकि पाकिस्तानी कब्ज़े वाले कश्मीर में हुई सर्जिकल स्ट्राइक को हुए लगभग 10 दिन बीत गए हैं और मोदी विरोधी प्रारम्भिक झटके से उबर गए हैं तो उन्होंने राजनीतिक नफ़ा-नुकसान जोड़ना-घटाना शुरू किया है.

राजनीतिक जोड़ घटा के बाद उन्होंने देखा कि इस उरी हमले और उसके जवाब में हुई इस सर्जिकल स्ट्राइक के बाद तो मोदी और भाजपा को तो जबरदस्त राजनैतिक लाभ हुआ है.

एक नेता के रूप में मोदी जी का कद बढ़ा है… उनकी विश्वसनीयता बढ़ी है… उनकी छाती नापने पे 56 नहीं बल्कि 66 इंच की निकली… अब भाजपाइयों ने कुर्ता उतार के टी-शर्ट पहन ली है और मसल्स दिखा रहे हैं.

और आखिर क्यों न दिखायें??? कल तक आप ही न पूछते थे कि क्या हुई 56 इंच की छाती??? अब उन्होंने कहा… य्य्य्य्ये रही… देख लो… और यूँ करो कि नाप लो…

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद मोदी और भाजपा को मिली राजनैतिक बढ़त विरोधियों को वैधव्य का अहसास दे रही है.

हाय… क्या अब सत्ता सुख का orgasm (सेक्स दौरान होने वाला चरमसुख) कभी प्राप्त न होगा??? इसी सदमे में मोदी विरोधी पाकिस्तानियों के साथ हमबिस्तरी को तैयार हो गए हैं.

Comments

comments

loading...

LEAVE A REPLY